वस्तु नै होइन «