बाह्रबिसे पहिरो पीडित «